फ्री में 180 करोड़ रुपये का मास्क बांटेगी नीतीश सरकार! हर घर में 6 लोगों को मुफ्त में दिया जायेगा

0
589

PATNA : बिहार में कोरोना महामारी का संक्रमण बड़ी तेजी से फ़ैल रहा है. कोरोना की दूसरी लहर की चेन को तोड़ने के लिए नीतीश सरकार ने एक बड़ा एलान किया है. राज्य सरकार ने कहा है कि लोगों को कोरोना से बचाने के लिए फ्री में मास्क दिया जायेगा. हर एक घर में 6-6 मास्क मुफ्त में दिए जायेंगे.

बिहार सरकार में पंचायती राज्य विभाग मंत्री सम्राट चौधरी ने मंगलवार को एक बड़ा एलान किया. मंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी की रोकथाम के लिये 12 करोड़ लोगों को फ्री में मास्क बांटा जायेगा. एक मास्क की कीमत अधिकतम कीमत 15 रुपये होगी. लिहाजा 180 करोड़ रुपये का मास्क लोगों के बीच निःशुल्क वितरित किया जायेगा. प्रत्येक परिवार को छह मास्क नि:शुल्क उपलब्ध कराये जायेंगे.

बिहार सरकार का कहना है कि फ्री में मास्क बांटने का जो खर्च आएगा, उसे 15वें वित्त आयोग से मिली राशि से किया जायेगा. इस बारे में पंचायती राज विभाग के अपर मुख्य सचिव अमृत लाल मीणा ने सभी जिलाधिकारियों और जिला पंचायती राज पदाधिकारियों को मंगलवार को पत्र भेजा है. इसमें कहा गया कि ग्राम पंचायत की ओर से मास्क की खरीद स्थानीय स्तर पर जीविका या खादी भंडार से की जाये. यदि वहां मास्क अनुपलब्ध हो तो स्थानीय स्तर पर कपड़े का मास्क तैयार कराया जाये. मास्क का वितरण घर-घर जाकर संबंधित ग्राम पंचायतों के पंचायत सचिव के माध्यम से कराया जायेगा.

पंचायती राज्य मंत्री सम्राट चौधरी ने कहा कि हर ग्रामीण परिवार को छह मास्क दिया जायेगा. मास्क वितरण संबंधित ग्राम पंचायत के पंचायत सचिव के माध्यम से किया जायेगा, इसके पूर्व यह काम हर गांव में मुखिया के माध्यम से कराया गया था, लेकिन पंचायत चुनाव को देखते हुए इस कोरोना काल में यह जिम्मेदारी पंचायत सचिव को दिया गया है. वह इस के लिए लाभुक का पहचान पत्र एवं वितरण पंजी पर हस्ताक्षर करायेंगे. इस कार्य में कार्यपालक सहायकों की सेवा ली जायेगी.

आपको बता दें कि बिहार में कोरोना संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है. राज्य में कोरोना ने मंगलवार को सारे रिकार्ड तोड़ दिए. बिहार सरकार की ओर से जारी ताजा आंकड़े के मुताबिक बिहार में कुल 10 हजार 55 नए मरीज मिले हैं. राजधानी पटना, गया, मुजफ्फरपुर, भागलपुर और सारण में जबरदस्त पॉजिटिव केस मिले हैं.

मंगलवार को बिहार आकार की ओर से जारी ताजा आंकड़े के मुताबिक पिछले 24 घंटे में कोरोना के कुल 10 हजार 55 नए मरीजों की पहचान की गई है. ये आंकड़ा सामने आने के बाद अब तक के सारे रिकार्ड टूट गए. स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि राजधानी पटना में सर्वाधिक 2186 नए पॉजिटिव केस सामने आये हैं. गया जिले का भी इस साल का रिकार्ड टूट गया है. वहां कुल 1 हजार 81 नए पॉजिटिव मामले सामने आये हैं.

राजधानी पटना और गया जिले के अलावा मुजफ्फरपुर, भागलपुर और सारण में जबरदस्त पॉजिटिव केस मिले हैं. मुजफ्फरपुर में 544, सारण में 530 और भागलपुर में 449 मरीज सामने आये हैं. बताया जा रहा है कि बिहार में पिछले 24 घंटे में 1,06,156 टेस्ट किए गए हैं, जिनमें 36,943 आरटीपीसीआर, 66,000 एंटीजन और 2308 ट्रूनेट टेस्ट शामिल हैं.

बिहार सरकार ने दावा किया है कि 24 घंटे में चार टैंकर लिक्विड ऑक्सीजन मिला है. पिछले तीन दिनों में पांच टैंकर मिले थे. राज्य में 32 मीट्रिक टन का उत्पादन किया जा रहा है. अगर केंद्र हमें 72 मीट्रिक टन उपलब्ध करा दे तो यहां 103 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का उत्पादन किया जा सकता है. रेमडेसिविर दवा की उपलब्धता को लेकर उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटे में रेमडेसिविर दवा की 1200 डोज मिली है, जिसके आवश्यकता के अनुसार सरकारी और निजी अस्पतालों को अलॉट किया जा रहा है. केंद्र सरकार से 50 डोज डिमांड की गई है.

Input :- First Bihar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here